नज़रुल कलाक्षेत्र : ललित कला अकादेमी करेगी त्रिपुरा में राष्ट्रीय कला उत्सव का आयोजन

Nazarul Kalakshetra: Lalit Kala Akademi will organize National Art Festival in Tripura (नई दिल्ली) : “नज़रुल कलाक्षेत्र” में 18 दिसम्बर, 2018 को ललित कला अकादेमी’ त्रिपुरा में राष्ट्रिय कला उत्सव का आयोजन करने जा रही है. इस आयोजन में विभिन्न प्रकार की कलाकृतियां देखने को मिलेंगी. नीलेखुले आसमान के नीचे, पेड़ों की हरियाली से सजी वादियाँ और उनकी चोटियों पर अठखेलियाँ करते बादल. क्या इससे रमणीय और सुन्दर कुछ हो सकता है?

नज़रुल कलाक्षेत्र : ललित कला अकादेमी करेगी त्रिपुरा में राष्ट्रीय कला उत्सव का आयोजन

जी हाँ, बिल्कुल हो सकता है. शहरों की भागदौड़, ट्रैफिक के शोर और प्रदूषण से दूर ऐसे स्वच्छ और शांत प्राकृतिक माहौल के बीच कलासृजन करने का अनुभव. कलाकारों और कला प्रेमियों को यही अनूठा अनुभव देने देश के पूर्वोत्तरी अंग में कला की सेवा करने के क्रम में देश की शीर्ष कला संस्थाललित कला अकादेमी, त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में सातदिवसीय कला उत्सव का आयोजन कर रही है.

सूचना संस्कृति निदेशालय त्रिपुरा सरकार’ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित हो रहे इस राष्ट्रीय कला उत्सव में देश भर से 51 कलाकार भाग ले रहे हैं जिनमें से 30 कलाकार ‘सात बहनों’ के नाम से मशहूर पूर्वोत्तरी राज्यों से हैं. इस कलोत्सव की एक विशेषता यह भी होगी कि इसमें कला महाविद्यालय, अगरतला के 51 विद्यार्थियों को उत्सव के प्रतिभागी कलाकारों के साथ काम करने उनसे सीखने का अनुभव मिलेगा. इस प्रकार, इस राष्ट्रीय उत्सव में 100 से अधिक कलाकार कला प्रशिक्षु एक साथ एक जगह पर कार्य करेंगे, जो पूर्वोत्तर राज्यों के कला इतिहास में एक अनूठा अवसर होगा.

नज़रुल कलाक्षेत्र : ललित कला अकादेमी करेगी त्रिपुरा में राष्ट्रीय कला उत्सव का आयोजन
नज़रुल कलाक्षेत्र

इस महोत्सव के आयोजन पर ख़ुशी व्यक्त करते हुए ललित कला अकादेमी के अध्यक्ष उत्तम पाचारणे’ ने कहा, “ललित कला अकादेमी अपने स्थापना से लेकर अब तक देश भर में कला की सेवा कलाकारों का सहयोग करती आयी है. महात्मा गांधी के 150वें जयंती वर्ष में इस साल अकादेमी अब तक देश के कई हिस्सों में कलाकारों के लिए कार्यशालाएं शिविर और कला प्रेमियों के लिए प्रदर्शनियों का आयोजन कर चुकी है. इसी क्रम में देश के पूर्वोत्तर में इस राष्ट्रीय कला उत्सव का आयोजन किया जा रहा है. इनसात बहनोंकी कला संस्कृति का हमारे इतिहास में हमेशा से ही विशेष स्थान रहा है. इस आयोजन के लिए मैं त्रिपुरा सरकार का आभारी हूँ. साथ ही मैं यह आशा करता हूँ कि इसमें प्रतिभागी कलाकार कला प्रशिक्षु ही नहीं बल्कि आम जनता भी उत्सव का भरपूर आनन्द लेगी.”

अगरतला के नज़रुल कलाक्षेत्र में 18 दिसम्बर, 2018 को संध्या 4:30 बजे से आरम्भ होने वाले इस राष्ट्रीय कला उत्सव का उद्घाटन त्रिपुरा के माननीय राज्यपाल ‘श्री कप्तान सिंह सोलंकी’ करेंगे. श्री जिष्णु देबबर्मा’, माननीय उपमुख्यमंत्री, त्रिपुरा, एम एल डे, सचिव, आइसीए, त्रिपुरा सरकार एवं ‘श्री अमीर चंद’, अखिल भारतीय महामंत्री, संस्कार भारती, की सम्माननीय उपस्थिति में होने वाले इस उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता अकादेमी अध्यक्ष उत्तम पाचारणे जी करेंगे.

नज़रुल कलाक्षेत्र : ललित कला अकादेमी करेगी त्रिपुरा में राष्ट्रीय कला उत्सव का आयोजन
उत्तम पाचारणे

24 दिसम्बर, 2018 तक चलने वाले इस उस्तव में बहुमाध्यम कला शिविर, स्लाइड शो, पैनल चर्चा सहित अन्य कार्यक्रम होंगे. साथ ही आपको बता दें कि उत्सव में त्रिपुरा राज्य के माननीय उपमुख्यमंत्री ‘श्री जिष्णु देबबर्मा’ एक प्रतिभागी कलाकार के रूप में भी शिरकत कर रहे हैं.

Facebook Comments